Chhalaang Review: कभी न हार मानने की सीख देती है फिल्म छलांग - दीवाली पर परफेक्ट इंटरटेनमेंट


राजकुमार राव और नुसरत भरूचा की फिल्म छलांग अमेजन प्राइव वीडियो पर रिलीज हो चुकी है। इसमें मोहम्मद जीशान अयूब भी अहम भूमिका में हैं। फिल्म का निर्देशन हंसल मेहता ने किया है। 'छलांग' की कहानी हरियाणा में रहने वाले मोहिंदर सिंह हुड्डा यानी मोंटू की है. मोंटू पीटी का टीचर  ( PT teacher ) है. मोंटू किरदार का राजकुमार राव ने निभाया है। मोंटू अपने काम को सीरियसली नहीं लेता है और मस्ती में जीवन जीता है. लेकिन कंप्यूटर टीचर नीलिमा जिंदगी में आती है और रौनक आ जाती है. सब मोंटू की मनमर्जी मुताबिक चल रहा होता है लेकिन पीटी टीचर मिस्टर सिंह के आने से मोटू के जिंदगी में तूफान आ जाता है  यहां तक कि बात मोन्टू की नौकरी और सम्मान पर आ जाती है। अपना सम्मान छिनता देख मोन्टू, मिस्टर सिंह को स्पोर्ट्स कॉम्पिटिशन करने का चैलेंज देता है। फिल्म में आगे क्या होता है यह जानने के लिए आपको पूरी फिल्म देखनी पड़ेगी।



एक्टिंग

एक्टिंग के मामले में राजकुमार राव छा गए हैं, उनका बिंदास अंदाज और हरियाणवी लहजा दिल जीत लेता है.  नुसरत भरुचा और सौरभ शुक्ला ने भी अच्छा काम किया है. इस तरह दीवाली के इस मौके पर जब बाहर ज्यादा जाने से बचना चाहिए, ऐसे में 'छलांग' परफेक्टर एंटरटेनर है. मोहम्मद जीशान अयूब ने भी शानदार एक्टिंग की है। स्कूल के बच्चों ने फिल्म में जान डाल दी है।



डायरेक्शन

हंसल मेहता मंझे हुए डायरेक्टर हैं। फिल्म में उनका काम और निर्देशन का बारीकियां साफ नजर आती हैं। स्कूल और पीटी टीचर की जिंदगी को डायरेक्टर हंसल मेहता ने बहुत अच्छे से दिखाया है। इसकी कहानी को लव रंजन ने लिखा है। फिल्म का म्यूजिक भी काफी बढ़िया है। फिल्म की कहानी बढ़िया है, लेकिन जो बात तंग करती है, वह है फिल्म की लेंथ. इसको थोड़ा क्रिस्प रखा जा सकता है. लेकिन देखा जा रहा है कि ओटीटी पर रिलीज हो रही फीचर फिल्मों की लेंथ थोड़ी ज्यादा जा रही है.