38 के हुए यो यो हनी सिंह , जाने रिकॉर्डिंग आर्टिस्ट से म्यूजिक किंग बनने तक की कहानी

 

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर यो यो हनी सिंह ( Yo Yo Honey Singh ) जिनके गाने भारतीय युवाओं के बीच हिट हैं. आज वह 38 वर्ष के हो चुके हैं.

 15 मार्च, 1983 को होशियारपुर में जन्मे हनी सिंह का असली नाम हिरदेश सिंह हैं. आज वह अपना 38 जन्मदिन अपने फैंस और परिवार के साथ मना रहे हैं. आज हनी सिंह जिस मुकाम पर हैं यहां तक पहुचने के लिए उन्होंने काफी मेहनत की है. उन्होंने अपनी लाइफ में कई उतार चढ़ाव देखे हैं. आज हम आपको हनी के जन्मदिन पर उनके जीवन से जुड़ी कई दिलचस्प बातें बताने जा रहे हैं 

Yo Yo Honey Singh

हनी सिंह जिस मुकाम पर आज मौजूद है. उस मुकाम तक पहुंचने के लिए हनी सिंह ने काफी मेहनत की है. हनी सिंह ने अपनी शुरुआत रिकॉर्डिंग आर्टिस्ट और भांगड़ा प्रोड्यूसर के रूप में की थी. 


बॉलीवुड में शुरूआत-

आज बॉलीवुड में बड़ा से बड़ा स्टार हनी सिंह का नाम जानता है

हनी सिंह ने अपने करियर की शुरुआत बॉलीवुड में फिल्म ‘शकल पे मत जा’ से की थी.  

पहली बार गाए गए अपने बॉलीवुड डेब्यू सांग के बाद से कई लोगों ने नोटिस किया हनी सिंह को और इसके बाद हनी सिंह का एक गाया हुआ गाना 'अंग्रेजी बीट' सैफ अली खान की फिल्म काॅकटेल में भी दिखाया गया है। 

हनी सिंह को बॉलीवुड में पापुलैरिटी तब मिली जब उन्हें बिग बजट फिल्में जैसे ‘चेन्नई एक्सप्रेस’ और ‘बाॅस’ में गाने का मौका मिला। उनका लुंगी डांस लोगों की जुबान पर चढ़ गया. उन्होंने फिल्म ‘भूतनाथ रिटन्र्स’ में भी अमिताभ बच्चन के साथ एक गाना करने का मौका मिला जो गाना सुपर-डुपर हिट साबित भी हुआ था.

छोटी बजट की फिल्में जैसे मेरे डैड की मारूति, बजाते रहो और फुगली में भी हनी सिंह के गाए हुए गाने काफी पापुलर हुए थे


रोचक बाते - 

1). हनी सिंह को “यो यो” स्लैग अपने अफ्रीकन-अमेरिकन दोस्तों से मिला, जिसका अर्थ “आपका अपना” होता है. इसीलिए उनका नाम उनको अपनी एक विशेष पहचान दिलवाता है “आपका अपना हनी सिंह” .

2). 2012 में यूटूब के टॉप 10 ट्रेंडिंग विडियो में उनका गाना ब्राउन रंग पहले पायदान पर था और हाई हिल्स चौथे स्थान पर था.

3). यो यो ने पंजाबी फिल्मो में भी काम किया है जैसे मिर्ज़ा और मै तेरा 22 तू मेरा 22 ( Tu Mera 22 Main Tera 22 ) . 2014 में उन्होंने बॉलीवुड में डेब्यु किया था, उनकी पहली फिल्म द एक्स्पोस है ( The Xpose ). लेकिन ये फिल्म कुछ खास कमाल नहीं कर पाई. 2015 में मध्य में हनी सिंह फिर पंजाबी सिनमा में लौटकर आये, और उन्होंने फिल्म जोरावर ( Zorawar ) की.

4). सिंह का एल्बम “इंटरनेशनल विलेजर” सभी समय का हाईएस्ट ग्रोस्सिंग (Highest Grossing) पंजाबी एल्बम बना.

हनी सिंह कई गाने आज भी लोगों के जुबां पर रहते है, जैसे- 'हाय मेरा दिल', 'ब्राउन रंग', 'हाई हील्स', 'ब्रेकअप पार्टी', 'ब्रिंग मी बैक', 'ब्लू आईज', 'इसे कहते हैं हिप हॉप हिप हॉप', 'देसी कलाकार', 'रानी तू मैं राजा', 'पार्टी ऑन माई माइंड', 'पंजाबियां दी बैटरी', 'लुंगी डांस', 'बॉस टाइटल ट्रेक', 'पार्टी ऑल नाईट', 'सनी सनी', 'चार बोतल वोडका', 'पार्टी विद भूतनाथ', 'अता माझी सटकली', 'बर्थडे बैश'.   

"हनी सिंह का मानना है कि वे युवाओं की असल जिंदगी से जुड़ी चीजों पर ही गाने बनाते हैं, और इसलिए वे हिट भी हो जाते हैं. ( बूढ़े हो या बच्चे हनी सिंह ने अपनी धुन पर सभी को नचाया है ) 

तभी तो हनी सिंह को म्यूजिक किंग भी कहा जाता है"